Press "Enter" to skip to content

स्वप्ना सुरेश कौन है? केरला गोल्ड स्मगलर स्वप्ना सुरेश की पूरी जानकारी

पिछले रविवार तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डे पर कस्टम अधिकारियो ने एक जाँच के दौरान ३० किलोग्राम सोना बरामद किया व बताया जा रहा हैं की इस मामले की मुख्य आरोपी यूएई की एक पूर्व वाणिज्य अधिकारी हैं जिनका नाम स्वप्ना सुरेश हैं.

जैसे ही यह खबर मीडिया तक पहुंची उसके बाद से ही स्वप्ना की कई बड़े अधिकारियो के साथ खींची गयी तस्वीरे सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. इनमे केरला के मुख्यमंत्री व आईटी सचिव भी शामिल हैं.

तस्वीरो के वायरल होते ही सभी विपक्षी दलों ने राज्य सरकार की आलोचनाये शुरू कर दी हैं व जल्द से जल्द इस मामले की सीबीआई जाँच की मांग की हैं. सूत्रों के अनुसार इस मामले की जड़े केरला सरकार के बहुत बड़े पदों पर बैठे लोगो से जुड़े हुई हैं.

स्वप्ना सुरेश यूएई की रहने वाली हैं जिनकी जड़े केरला से जुडी हुई हैं, स्वप्ना पहले यूएई कांसुलेट में काम कर चुकी हैं जिसके कारण उनकी पहचान बहुत से बड़े लोगो के साथ हो गयी थी व सभी बड़ी पार्टियों में स्वप्ना को कई बड़े अधिकारियो के साथ देखा गया था. कुछ ही समय पहले स्वप्ना यूएई को छोड़कर भारत लौट आई थी व अपनी जान पहचान के चलते ही उनको केरला के आईटी विभाग में नौकरी मिल गयी थी. हालांकि इससे पहले भी स्वप्ना बहुत सी नौकरिया बदल चुकी हैं व कई आरोपों में घिर चुकी हैं.

स्वप्ना सुरेश कौन है?

स्वप्ना सुरेश आईटी प्रोफेशनल है जो स्पेस पार्क में संपर्क अधिकारी के रूप में कार्य कर रही है. स्वप्ना सुरेश का जन्म 4 जून 1981 में हुआ था और उसकी Age 39 years है.

NameSwapna Suresh
Date of Birth4 June 1981
Age39 Years
Father NameSuresh Sukumaran
Mother NamePrabha Suresh

अपनी बड़ी जान पहचान के चलते स्वप्ना ने यह सोने की तस्करी का काम शुरू कर दिया व डिप्लोमेटिक पासपोर्ट की सहायता से इन वारदातों को अंजाम दिया. स्वप्ना का नाम जब बाहर आया तब अभिनेत्री शामाना खान से जुड़े धमकी भरे कॉल के केस में किसी “डील वुमन” का नाम सामने आया, व उससे जुडी मिली जानकारी के द्वारा ही कस्टम विभाग ने तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डे पर छापा मारा व १३ करोड़ का सोना बरामद किया.

swapna suresh arrested

12 जून 2020 की सुबह स्वप्ना सुरेश को अरेस्ट कर लिया गया है और वो अभी पुलिस कस्टडी में है. इस केस से जुड़े सभी लोगो की पुलिस द्वारा जाँच पड़ताल शुरू कर दी गयी हैं व विपक्ष के दबाव के चलते केरला सरकार द्वारा उनके आईटी सचिव को जाँच पड़ताल खत्म न होने तक निलंबित कर दिया गया हैं.

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *